राजभाषा प्रकोष्ठ


भा.कृ.अनु.प.-केन्द्रीय कटाई-उपरान्त अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (सीफेट),लुधियाना फसलोत्तर शोध,प्रशिक्षण एवं प्रसार को जन-उपयोगी बनाने के लिएअपने विभिन्न कार्यक्रम एवं प्रकाशन को राजभाषा हिंदी में करने का प्रयास करती है ताकि कृषि एवं कृषि से जुड़े विभिन्न व्यवसायों के हितधारकों को सही, सरल, संबधित सूचना सरलता से उपलब्ध हो सके| राजभाषा प्रकोष्ठ, राजभाषा कार्यान्वयन समिति संस्थान के इस प्रयास को मूर्तरूप देती है| संस्थान की राजभाषा प्रकोष्ठ राजभाषा विभाग (भारत सरकार) एवं भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद्, नई दिल्ली के द्वारा राजभाषा हिंदी संबंधी आदेशो को कार्यान्वयन करती है एवं नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति आयकर (नराकास), लुधियाना द्वारा आयोजित हिंदी की विभिन्न गतिविधियों एवं प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेती है| संस्थान द्वारा जारी विभिन्न खबरों को हिंदी के विभिन्न अखबारों में प्रकाशन हेतु प्रोत्साहित तथा सहयोग करती हैं| विभिन्न अधिकारियों/कर्मचारियों को अधिक से अधिक हिंदी के कार्य करने को प्रोत्साहित करती हैं, हर-संभव सहयोग करती हैं एवं विभिन्न बैठकों, कार्यशालाओं एवं पखवाड़े का आयोजन करके अधिकारीयों एवं कर्मचारोयों द्वारा हिंदी गतिविधियों में भागीदारी को बढ़ाने का प्रयास करती हैं|

सरकार द्वारा आयोजित पुरस्कार विभिन्न हिंदी कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रेरित करती हैं |

  1. नराकास लुधियाना द्वारा सीफेट, को बड़े केंद्रीय सरकारी कार्यालय की श्रेणी में तृतीय पुरस्कार
  2. नराकास लुधियाना द्वारा श्री विकास कुमार, प्रभारी राजभाषा को राजभाषा हिंदी के श्रेष्ठ निष्पादन के लिए तृतीय पुरस्कार
  3. प्रसंकरण प्रगति को राजभाषा पुरस्कार

संपर्क विवरण

  • डॉ. नचिकेत कोतवालीवाले, निदेशक, भा.कृ.अनु.प.-केन्द्रीय कटाई-उपरान्त अभियांत्रि की एवं प्रौद्योगि की संस्थान, (सीफेट),लुधियाना
    ईमेल: director.ciphet[at]icar[dot]gov[dot]in
    फोन: 0161-2313103
  • श्री विकास कुमार, प्रभारी, राजभाषा प्रकोष्ठ
    ईमेल: vikas.kumar5[at]icar[dot]gov[dot]in
    फोन: 0161-2313148
director-1

संगठन चार्ट

director-2